Activity Stream

Filter
Sort By Time Show
Recent Recent Popular Popular Anytime Anytime Last 7 Days Last 7 Days Last 30 Days Last 30 Days All All Photos Photos Forum Forums
  • superidiotonline's Avatar
    102 replies | 39748 view(s)
  • sultania's Avatar
    12-08-2022, 05:42 PM
    मंहगाई के अग्निपथ पे खड़े भारत मैं अग्निविरो के फायदे की बाते । सिर्फ फायदे को बात चल रही भारत मैं कोई महगाई की बात नही कर रहा । बाबा रामदेव जी ,...
    102 replies | 39748 view(s)
  • superidiotonline's Avatar
    11-08-2022, 08:06 PM
    यह सब पढ़कर पाठकगण हमें मायाजाल का महारथी समझने लगे होंगे, किन्तु यह बात एकदम गलत है। शहर में ढ़ाई लाख आशिक़ों वाली गर्लफ्रेंड को छकाने के लिए हमने भी...
    20 replies | 261 view(s)
  • superidiotonline's Avatar
    11-08-2022, 07:45 PM
    हिन्दी लुगदी साहित्य के महान जासूसी उपन्यासकार दिवंगत वेद प्रकाश शर्मा अपने उपन्यासों में इस प्रकार का उल्टा मायाजाल रचने में अत्यधिक माहिर थे। यही...
    20 replies | 261 view(s)
  • superidiotonline's Avatar
    11-08-2022, 03:43 PM
    यहाँ पर यह भी उल्लेखनीय है कि मायाजाल की तरह एक और मायाजाल भी होता है जिसे उल्टा (Reverse) मायाजाल कहते हैं। वास्तविक जीवन में प्रायः ऐसा उल्टा...
    20 replies | 261 view(s)
  • superidiotonline's Avatar
    11-08-2022, 01:25 PM
    तो इस प्रकार आपने देखा कि मायाजाल का भण्डाफोड़ हो जाने के कारण पूरी कहानी ही बदल गई तथा नारद जी विष्णु भगवान के मायाजाल में नहीं फँसे और 'कॉम्प्टीशन...
    20 replies | 261 view(s)
  • superidiotonline's Avatar
    11-08-2022, 12:08 AM
    चलो, कुछ तो अच्छा लगा तुम्हें।
    20 replies | 261 view(s)
  • anita's Avatar
    10-08-2022, 10:08 PM
    बहुत बढ़िया। ...........
    20 replies | 261 view(s)
  • superidiotonline's Avatar
    10-08-2022, 02:58 PM
    भगवान विष्णु इतनी जल्दी हार मानने वाले तो नहीं थे। मंद-मंद मुस्कुराते हुए बोले- 'मुझे भी धरतीलोक का भ्रमण किए हुए कई महीने बीत गए। आज धरतीलोक का...
    20 replies | 261 view(s)
  • superidiotonline's Avatar
    10-08-2022, 01:45 PM
    जब बहुत दिन बीत गए और नारद जी नहीं पधारे तो विष्णु भगवान अत्यन्त विचलित हो गए। उधर नारद जी भी कम विचलित नहीं थे। वे भी यह जानने के लिए अत्यन्त इच्छुक...
    20 replies | 261 view(s)
  • superidiotonline's Avatar
    10-08-2022, 01:01 PM
    नारद को सबक सिखाने और उनके अहंकार को भंग करने के उद्देश्य से विष्णु भगवान मायाजाल का प्रयोग करके मायानगरी का निर्माण करने में तन-मन से लगे हुए थे।...
    20 replies | 261 view(s)
  • superidiotonline's Avatar
    10-08-2022, 12:37 PM
    कल्पना करिए- नारद को सबक सिखाने और उनके अहंकार को भंग करने के उद्देश्य से जिस समय विष्णु भगवान मायानगरी का निर्माण कर रहे थे उस समय यदि भूले-भटके...
    20 replies | 261 view(s)
  • superidiotonline's Avatar
    10-08-2022, 12:07 PM
    तो इस प्रकार आपने देखा कि रामायण काल में वर्णित मायानगरी का निर्माण नारद को सबक सिखाने और उनके अहंकार को भंग करने के उद्देश्य से किया गया था। आज भी...
    20 replies | 261 view(s)
  • superidiotonline's Avatar
    10-08-2022, 11:24 AM
    नारद वहां से उदास होकर लौट रहे थे तो रास्ते में एक जलाशय में अपना चेहरा देखा। अपने चेहरे को देखकर नारद हैरान रह गये क्योंकि उनका चेहरा बंदर जैसा लग...
    20 replies | 261 view(s)
  • superidiotonline's Avatar
    10-08-2022, 11:22 AM
    इस नगर में देवी लक्ष्मी राजकुमारी रूप में उत्पन्न हुईं। इन्हें देखकर नारद मुनि के मन में विवाह की इच्छा प्रबल हो उठी। वह विष्णु भगवान के पास हरि के...
    20 replies | 261 view(s)
  • superidiotonline's Avatar
    10-08-2022, 11:18 AM
    तो इस प्रकार आपने देखा कि महाभारत में मायाजाल का प्रयोग करके जिस मायावी महल 'इन्द्रप्रस्थ' का निर्माण किया गया था उसका एकमात्र उद्देश्य आगंतुक...
    20 replies | 261 view(s)
  • superidiotonline's Avatar
    10-08-2022, 11:14 AM
    युधिष्ठिर ने हमेशा से पाँडवों से वैर-भाव रखने वाले दुर्योधन को राजसूय यज्ञ का कोषाध्यक्ष बना दिया था। सभी राजाओं से दुर्योधन ने ही बहुमूल्य भेटें...
    20 replies | 261 view(s)
  • superidiotonline's Avatar
    10-08-2022, 11:09 AM
    इन्द्रप्रस्थ की मायावी संरचना देखकर दुर्योधन हैरान रह गया। उसने हस्तिनापुर में इतना अद्भुत वास्तुशिल्प कहीं नहीं देखा था। यह महल ‘मायाजाल’ से बना था...
    20 replies | 261 view(s)
  • superidiotonline's Avatar
    10-08-2022, 11:08 AM
    आइए, अब जानते हैं- महाभारत काल में मायाजाल का प्रयोग कब और कहाँ हुआ था। महाभारत और श्रीमद् भागवत दोनों के अनुसार 'मय' नामक असुर एक शिल्पी तथा एक...
    20 replies | 261 view(s)
More Activity