मित्र# : (अपना स्मार्टफ़ोन देते हुए) ज़रा यार मेरा मोबाइल ठीक कर दो। इंकमिंग आती है तो रिंग नहीं सुनाई देती।

मैं : (स्मार्टफ़ोन लेते हुए) लाओ, अभी ठीक कर देता हूँ...... ये लो पकड़ो। ठीक हो गया!

मित्र# : (आश्चर्यपूर्वक) वाकई ठीक हो गया? इतनी जल्दी?

मैं : (अपना मोबाइल निकालते हुए) और नहीं तो क्या! अभी रिंग मारकर चेक कराता हूँ। अब जल्दी से अपना मोबाइल नम्बर बताइए।

मित्र# : जल्दी क्यों?

मैं : कल दिल्ली जाना है। बहुत काम है!

मित्र# : (घबड़ाकर) दिल्ली??? रहने दीजिए। मैं खुद दूसरे मोबाइल से कॉल करके चेक कर लूँगा!

---------------------------
#ParisKandKeBhuktbhogi