loading...
Page 1 of 2 12 LastLast
Results 1 to 10 of 18

Thread: लग्न भाव में पाँच ग्रहों की युति - उपद्रवी भीड़ या प्रबुद्ध पञ्चायत?

  1. #1
    नवागत
    Join Date
    Oct 2016
    प्रविष्टियाँ
    14
    Rep Power
    0

    लग्न भाव में पाँच ग्रहों की युति - उपद्रवी भीड़ या प्रबुद्ध पञ्चायत?

    loading...
    प्यारे दोस्तों,


    आप सभी बुद्धिमान और ज्योतिष विज्ञान के ज्ञाता हैं - ऐसा समझकर मैं आप से इस प्रस्तुत कुण्डली का विश्लेषण करने का आग्रह करती हूँ।
    मेरे लिए यह कुण्डली अभी तक "जटिल" तथा "भ्रामक" रहा है। इस पर आपकी टिपण्णी तथा विचार साझा करने का अनुग्रह करें।


    Name:  MADHAVA.jpg
Views: 160
Size:  149.1 KB

    धन्यवाद!
    Funday Moon

  2. #2
    कांस्य सदस्य Rajat Vynar's Avatar
    Join Date
    Oct 2014
    प्रविष्टियाँ
    5,751
    Rep Power
    9
    Quote Originally Posted by FundayMoon View Post
    प्यारे दोस्तों,


    आप सभी बुद्धिमान और ज्योतिष विज्ञान के ज्ञाता हैं - ऐसा समझकर मैं आप से इस प्रस्तुत कुण्डली का विश्लेषण करने का आग्रह करती हूँ।
    मेरे लिए यह कुण्डली अभी तक "जटिल" तथा "भ्रामक" रहा है। इस पर आपकी टिपण्णी तथा विचार साझा करने का अनुग्रह करें।



    धन्यवाद!
    Funday Moon
    कोई भी 'बुद्धिमान और ज्योतिष विज्ञान का ज्ञाता' सम्पूर्ण जन्मविवरण के बिना सिर्फ़ लग्न कुण्डली के आधार पर फलादेश करने की मूर्खता नहीं करेगा।

    सटीक फलदेश के लिए षोड़शवर्ग, अष्टकवर्ग, भावचलित, ग्रहबल, भावबल, के०पी० पद्धति की आवश्यकता पड़ती है।

    धन्यवाद।

    चलिए छोड़िए। ये बताइए- सितम्बर 2013 में अपनी कुण्डली आपने दिखवाई थी, उसका 'कुण्डली देखन शुल्क' अभी तक आपने जमा नहीं किया है। शीघ्रतापूर्वक पुराना बकाया देने की कृपा करें, नहीं तो अनीता जी से शिकायत कर दी जाएगी।
    [Only Registered and Activated Users Can See Links. Click Here To Register...]

    WRITERS are UNACKNOWLEDGED LEGISLATORS of the SOCIETY!

  3. #3
    नवागत
    Join Date
    Oct 2016
    प्रविष्टियाँ
    14
    Rep Power
    0
    आपकी टिपण्णी के लिए धन्यवाद! रजत जी, आपने जो विवरण कहा है उनका मिल पाना संभव नहीं है। मैं क्षमाप्रार्थी हूँ!
    आपने कहा की मैंने सितम्बर २०१३ में अपनी कुण्डली दिखवाई थी, लेकिन जहाँ तक मुझे याद है, मैं तो इसी वर्ष पिछले माह अक्टूबर में "विचार मंच" की सदस्या बनी हूँ। :O

    Quote Originally Posted by Rajat Vynar View Post
    कोई भी 'बुद्धिमान और ज्योतिष विज्ञान का ज्ञाता' सम्पूर्ण जन्मविवरण के बिना सिर्फ़ लग्न कुण्डली के आधार पर फलादेश करने की मूर्खता नहीं करेगा।

    सटीक फलदेश के लिए षोड़शवर्ग, अष्टकवर्ग, भावचलित, ग्रहबल, भावबल, के०पी० पद्धति की आवश्यकता पड़ती है।

    धन्यवाद।

    चलिए छोड़िए। ये बताइए- सितम्बर 2013 में अपनी कुण्डली आपने दिखवाई थी, उसका 'कुण्डली देखन शुल्क' अभी तक आपने जमा नहीं किया है। शीघ्रतापूर्वक पुराना बकाया देने की कृपा करें, नहीं तो अनीता जी से शिकायत कर दी जाएगी।

  4. #4
    कांस्य सदस्य Rajat Vynar's Avatar
    Join Date
    Oct 2014
    प्रविष्टियाँ
    5,751
    Rep Power
    9

    Cool

    Quote Originally Posted by FundayMoon View Post
    आपकी टिपण्णी के लिए धन्यवाद! रजत जी, आपने जो विवरण कहा है उनका मिल पाना संभव नहीं है। मैं क्षमाप्रार्थी हूँ!
    आपने कहा की मैंने सितम्बर २०१३ में अपनी कुण्डली दिखवाई थी, लेकिन जहाँ तक मुझे याद है, मैं तो इसी वर्ष पिछले माह अक्टूबर में "विचार मंच" की सदस्या बनी हूँ। :O
    हमने कब कहा- पिछ्ले माह अक्टूबर में यहाँ की सदस्या नहीं बनीं? मिल्की-वे के सबसे बड़े राइटर रजत वाइनर एक ही नाम से अन्तर्जाल में हर जगह भटकते हैं। यह दूसरी जगह का किस्सा और उधार है। तब आपका नाम दूसरा था, फिर भी उधार वाले चाहे जितना रूप बदल लें, पहचान ही लिए जाते हैं। हम यह नहीं कहते- कि आप 'कुण्डली देखन शुल्क' देने से इन्कार कर रहीं थीं। दरअसल आप नगद की जगह फल और मेवा देकर शुल्क अदा करना चाहती थीं और हमें यह मंजूर नहीं था। हर जगह नगद की जगह हम फल और मेवा स्वीकार करने लगें तो हो चुका। पेट खराब हो जाएगा। एक ही जगह से फल और मेवा लेना ही बहुत होता है। महीने भर चलता है। इसीलिए फल और मेवा के रूप में 'कुण्डली देखन शुल्क' सिर्फ़ अनीता जी से ही स्वीकार करते हैं।
    [Only Registered and Activated Users Can See Links. Click Here To Register...]

    WRITERS are UNACKNOWLEDGED LEGISLATORS of the SOCIETY!

  5. #5
    ज्योतिषाचार्य ashok-'s Avatar
    Join Date
    Jul 2009
    प्रविष्टियाँ
    1,675
    Rep Power
    11
    किस कारण यह आप को जटिल तथा भ्रामक लगा सभंव हो तो विस्तार से बताये। अगर आपके पास हो तो इनका जन्म दिनांक समय आदि दे मैं प्रयास करूँगा कि आप के भ्रम को दूर कर सकूँ । धन्यवाद।

  6. #6
    नवागत
    Join Date
    Oct 2016
    प्रविष्टियाँ
    14
    Rep Power
    0
    Quote Originally Posted by Rajat Vynar View Post
    हमने कब कहा- पिछ्ले माह अक्टूबर में यहाँ की सदस्या नहीं बनीं? मिल्की-वे के सबसे बड़े राइटर रजत वाइनर एक ही नाम से अन्तर्जाल में हर जगह भटकते हैं। यह दूसरी जगह का किस्सा और उधार है। तब आपका नाम दूसरा था, फिर भी उधार वाले चाहे जितना रूप बदल लें, पहचान ही लिए जाते हैं। हम यह नहीं कहते- कि आप 'कुण्डली देखन शुल्क' देने से इन्कार कर रहीं थीं। दरअसल आप नगद की जगह फल और मेवा देकर शुल्क अदा करना चाहती थीं और हमें यह मंजूर नहीं था। हर जगह नगद की जगह हम फल और मेवा स्वीकार करने लगें तो हो चुका। पेट खराब हो जाएगा। एक ही जगह से फल और मेवा लेना ही बहुत होता है। महीने भर चलता है। इसीलिए फल और मेवा के रूप में 'कुण्डली देखन शुल्क' सिर्फ़ अनीता जी से ही स्वीकार करते हैं।
    आपकी बातें तो इस कुण्डली जैसी ही "जटिल" और "भ्रामक" हैं। २०१३ की यह बात मेरे स्मरण में नहीं आ रही है - इसके लिए मुझे क्षमाप्रार्थी हूँ रजत जी, लेकिन अगर याद आती है तो आपसे ज़रूर साझा करुँगी। वैसे, Funday Moon मेरा नाम नहीं है इसलिए अगर आपको लगता है की २०१३ की उस बात का उल्लेख करने से मेरी प्रतिष्ठा (इसकी कितनी एहमियत है - मैं नहीं जानती) पर कोई आँच नहीं आएगी तो आपको जो उचित लगे वह कीजिए।

  7. #7
    नवागत
    Join Date
    Oct 2016
    प्रविष्टियाँ
    14
    Rep Power
    0
    Quote Originally Posted by ashok- View Post
    किस कारण यह आप को जटिल तथा भ्रामक लगा सभंव हो तो विस्तार से बताये। अगर आपके पास हो तो इनका जन्म दिनांक समय आदि दे मैं प्रयास करूँगा कि आप के भ्रम को दूर कर सकूँ । धन्यवाद।
    आपके concern के लिए धन्यवाद! अशोक जी, इस वक़्त मेरे पास इतनी ही जानकारी है। अगर आप इस कुण्डली में उल्लेखित जन्म के समय के ग्रह-स्थिति के आधार पर जागत के व्यक्तित्व का जो थोड़ा बहुत विश्लेषण कर सकें, ज़रूर साझा करें।

  8. #8
    ज्योतिषाचार्य ashok-'s Avatar
    Join Date
    Jul 2009
    प्रविष्टियाँ
    1,675
    Rep Power
    11
    ठीक है मैं जन्म तारीख और समय निकालकर आप को विस्तार से बता दूँगा ।इस समय व्यस्त हूँ। धन्यवाद।

  9. #9
    ज्योतिषाचार्य ashok-'s Avatar
    Join Date
    Jul 2009
    प्रविष्टियाँ
    1,675
    Rep Power
    11
    Quote Originally Posted by FundayMoon View Post
    आपके concern के लिए धन्यवाद! अशोक जी, इस वक़्त मेरे पास इतनी ही जानकारी है। अगर आप इस कुण्डली में उल्लेखित जन्म के समय के ग्रह-स्थिति के आधार पर जागत के व्यक्तित्व का जो थोड़ा बहुत विश्लेषण कर सकें, ज़रूर साझा करें।
    FundayMoon जी आपके दिए हुए कुंडली अनुसार जातक की ३६ + की उम्र होगी या ६६ + की उम्र होगी | इनके जन्म स्थान के पास कुआँ होगा | इनके सर के सामने के हिस्से में बाल कम होगे यानि कपाल का हिस्सा चौड़ा होगा | वैवाहिक जीवन अच्छा नही होगा| इनके मकान में दो या तीन परिवार एक साथ होगे या joint फैमली होगे | घर के सामने वाला रास्ता पूर्व से पश्चिम की ओर होगा |
    पहले ऊपर लिखे बातो के बारे में बताये फिर आगे बताता हूँ | धन्यवाद |

  10. #10
    कांस्य सदस्य Rajat Vynar's Avatar
    Join Date
    Oct 2014
    प्रविष्टियाँ
    5,751
    Rep Power
    9
    Quote Originally Posted by FundayMoon View Post
    आपकी बातें तो इस कुण्डली जैसी ही "जटिल" और "भ्रामक" हैं। २०१३ की यह बात मेरे स्मरण में नहीं आ रही है - इसके लिए मुझे क्षमाप्रार्थी हूँ रजत जी, लेकिन अगर याद आती है तो आपसे ज़रूर साझा करुँगी। वैसे, Funday Moon मेरा नाम नहीं है इसलिए अगर आपको लगता है की २०१३ की उस बात का उल्लेख करने से मेरी प्रतिष्ठा (इसकी कितनी एहमियत है - मैं नहीं जानती) पर कोई आँच नहीं आएगी तो आपको जो उचित लगे वह कीजिए।
    हमने कब कहा- आपका नाम फंडेमून है? हमारी बातें 'जटिल' और 'भ्रामक' सिर्फ उनके लिए लगती है जो मिल्की-वे के निवासी नहीं हैं।

    अब आते हैं काम की बात पर। अब इतने सालों बाद एक कुण्डली लेकर इस मंच पर आई हो तो अवश्य कोई ज़रूरी बात होगी। ऐसे तो आओगी नहीं। जैसा कि अशोक जी ने बताया जातक 36+ या 66+ का हो सकता है। तो हम यह बता दें कि वर्ष 1950 में ग्रहों की यह स्थिति बन ही नहीं सकती थी, क्योंकि उस समय राहु मीन राशि में था। गणना के अनुसार ग्रहों की यह पंचायत वर्ष 1980 में बनी थी। और बारीकी से यदि देखा जाए तो यह कुंडली 21 से 23 मई 1980 के बीच की है और जन्म समय 11:40 AM से 1:10 PM के बीच का है, क्योंकि मई में ही सूर्य वृष राशि में रहता है और 21 मई से 23 मई के बीच चन्द्रमा सिंह राशि में था तथा सिंह लग्न उपरोक्त दिए गए समय के मध्य था। इस जानकारी से जन्म समय का तो अनुमान हो गया, किन्तु सटीक कुण्डली बना पाना नामुमकिन है। फिर भी इस कुण्डली से जो जानना चाहती हो वो साफ-साफ पूछे बगैर अशोक जी न बता पाएँगे। इसके लिए मिल्की-वे का ही कोई ज्योतिषी चाहिए।

    ध्यान से सुनो- इस जातक की बुद्धि भ्रष्ट है। अहंकारी है। शीघ्र क्रोध आता है। जातक की रुचि खेल-कूद में जन्म से है। अतः जातक लम्बी कूद और ऊँची कूद का बहुत बड़ा पुराना खिलाड़ी है, फिर भी मैराथन दौड़ के लिए बिल्कुल उपयुक्त नहीं है।

    धन्यवाद।
    [Only Registered and Activated Users Can See Links. Click Here To Register...]

    WRITERS are UNACKNOWLEDGED LEGISLATORS of the SOCIETY!

Page 1 of 2 12 LastLast

Thread Information

Users Browsing this Thread

There are currently 1 users browsing this thread. (0 members and 1 guests)

Bookmarks

Posting Permissions

  • You may not post new threads
  • You may not post replies
  • You may not post attachments
  • You may not edit your posts
  •