Page 37 of 37 FirstFirst ... 27353637
Results 361 to 368 of 368

Thread: मेरी पसंद की शेरो-शायरी

  1. #361
    हीरक सदस्य bndu jain's Avatar
    Join Date
    Sep 2016
    Location
    मध्य प्रदेश
    Posts
    69,465

    मैं जब सो जाऊँ इन आँखों पे अपने होंट रख देना,
    यक़ीं आ जाएगा पलकों तले भी दिल धड़कता है !!

  2. #362
    हीरक सदस्य bndu jain's Avatar
    Join Date
    Sep 2016
    Location
    मध्य प्रदेश
    Posts
    69,465


    एक नफरत ही नहीं दुनिया में दर्द का सबब फ़राज़
    मोहब्बत भी सकूँ वालों को बड़ी तकलीफ़ देती है

    अहमद फ़राज़

  3. #363
    हीरक सदस्य bndu jain's Avatar
    Join Date
    Sep 2016
    Location
    मध्य प्रदेश
    Posts
    69,465


    बच न सका ख़ुदा भी मुहब्बत के तकाज़ों से फ़राज़
    एक महबूब की खातिर सारा जहाँ बना डाला


  4. #364
    हीरक सदस्य bndu jain's Avatar
    Join Date
    Sep 2016
    Location
    मध्य प्रदेश
    Posts
    69,465



    बर्बाद करने के और भी रास्ते थे फ़राज़
    न जाने उन्हें मुहब्बत का ही ख्याल क्यूं आया



  5. #365
    हीरक सदस्य bndu jain's Avatar
    Join Date
    Sep 2016
    Location
    मध्य प्रदेश
    Posts
    69,465


    इस तरह गौर से मत देख मेरा हाथ ऐ फ़राज़
    इन लकीरों में हसरतों के सिवा कुछ भी नहीं

  6. #366
    हीरक सदस्य bndu jain's Avatar
    Join Date
    Sep 2016
    Location
    मध्य प्रदेश
    Posts
    69,465


    ये मुमकिन नहीं की सब लोग ही बदल जाते हैं
    कुछ हालात के सांचों में भी ढल जाते हैं


  7. #367
    हीरक सदस्य bndu jain's Avatar
    Join Date
    Sep 2016
    Location
    मध्य प्रदेश
    Posts
    69,465


    दोस्ती अपनी भी असर रखती है फ़राज़
    बहुत याद आएँगे ज़रा भूल कर तो देखो


  8. #368
    हीरक सदस्य bndu jain's Avatar
    Join Date
    Sep 2016
    Location
    मध्य प्रदेश
    Posts
    69,465



    मैं डूब के उभरा तो बस इतना ही देखा है फ़राज़
    औरों की तरह तू भी किनारे पे खड़ा था

Page 37 of 37 FirstFirst ... 27353637

Posting Permissions

  • You may not post new threads
  • You may not post replies
  • You may not post attachments
  • You may not edit your posts
  •