Page 6 of 6 प्रथमप्रथम ... 456
Results 51 to 59 of 59

Thread: गौतम बुद्ध के विचार अपनाए , अपने दुखो को दूर भगाएं

  1. #51
    स्वर्ण सदस्य bndu jain's Avatar
    Join Date
    Sep 2016
    Location
    मध्य प्रदेश
    प्रविष्टियाँ
    62,332
    Rep Power
    50

    हम जो भी सोचते हैं, वही बन जाते हैं।

  2. #52
    स्वर्ण सदस्य bndu jain's Avatar
    Join Date
    Sep 2016
    Location
    मध्य प्रदेश
    प्रविष्टियाँ
    62,332
    Rep Power
    50


    शक करने की आदत से ज्यादा भयावह और कुछ भी नहीं है। शक लोगों को एक-दूसरे से अलग करता है। यह एक ऐसा जहर है जो मित्रता को समाप्त करता है और रिश्तों को तोड़ता है। एक ऐसा कांटा है जो चोटिल करता है, एक ऐसी तलवार है जो वध करती है।

  3. #53
    स्वर्ण सदस्य bndu jain's Avatar
    Join Date
    Sep 2016
    Location
    मध्य प्रदेश
    प्रविष्टियाँ
    62,332
    Rep Power
    50

  4. #54
    स्वर्ण सदस्य bndu jain's Avatar
    Join Date
    Sep 2016
    Location
    मध्य प्रदेश
    प्रविष्टियाँ
    62,332
    Rep Power
    50

  5. #55
    स्वर्ण सदस्य bndu jain's Avatar
    Join Date
    Sep 2016
    Location
    मध्य प्रदेश
    प्रविष्टियाँ
    62,332
    Rep Power
    50

  6. #56
    स्वर्ण सदस्य bndu jain's Avatar
    Join Date
    Sep 2016
    Location
    मध्य प्रदेश
    प्रविष्टियाँ
    62,332
    Rep Power
    50

  7. #57
    स्वर्ण सदस्य bndu jain's Avatar
    Join Date
    Sep 2016
    Location
    मध्य प्रदेश
    प्रविष्टियाँ
    62,332
    Rep Power
    50


    जो गुजर गया उसके बारे में मत सोचो और भविष्य के सपने मत देखो

    केवल वर्तमान पे ध्यान केंद्रित करो


    गौतम बुद्ध (Gautam Buddha)


  8. #58
    स्वर्ण सदस्य bndu jain's Avatar
    Join Date
    Sep 2016
    Location
    मध्य प्रदेश
    प्रविष्टियाँ
    62,332
    Rep Power
    50

    जागे हुए व्यक्ति को रात लम्बी प्रतीत होती है,
    थके हुए व्यक्ति को मंजिल दूर प्रतीत होती है
    उसी तरह
    सत्य और धर्म से अज्ञान लोगों को
    जीवन और मृत्यु का सिलसिला भी लम्बा प्रतीत होता है

    – गौतम बुद्ध


  9. #59
    स्वर्ण सदस्य bndu jain's Avatar
    Join Date
    Sep 2016
    Location
    मध्य प्रदेश
    प्रविष्टियाँ
    62,332
    Rep Power
    50

    आपको जो कुछ मिला है
    उस पर घमंड ना करो और
    ना ही दूसरों से ईर्ष्या करो,
    घमंड और ईर्ष्या करने वाले लोगों को
    कभी मन की शांति नहीं मिलती


    – गौतम बुद्ध



Page 6 of 6 प्रथमप्रथम ... 456

Posting Permissions

  • You may not post new threads
  • You may not post replies
  • You may not post attachments
  • You may not edit your posts
  •