नए साल के आगमन की दिशा में वाहनों का प्रवेश रोकना हमारे पल्ले बिल्कुल नहीं पड़ा। अपने-अपने वाहनों से जाकर नए साल का आगमन देखने में आखिर गलत क्या है? कायदे से 'आखिर माजरा क्या है?' समझने के लिए हम एक चाय की दूकान पर रुक गए और धीरे-धीरे गर्म चाय सुड़कते हुए मामले की टोह लेने लगे।