Page 6 of 6 प्रथमप्रथम ... 456
Results 51 to 60 of 60

Thread: अँग्रेज़ कैसे मनाते हैं सन्त वालन्ताइन सप्ताह?

  1. #51
    कांस्य सदस्य superidiotonline's Avatar
    Join Date
    May 2017
    प्रविष्टियाँ
    5,422
    Rep Power
    8
    सन्त वालन्ताइन सप्ताह के छठवें दिन अर्थात् १२ फरवरी को को 'हग डे' अर्थात् 'आलिंगन दिवस' के रूप में मनाया जाता है। इस दिन प्रेमी युगल एक-दूसरे को आलिंगनबद्ध करके अपने प्रेम को प्रगाढ़ (Strong) करते हैं। हमारी समझ में आज तक ये नहीं आया कि ये अँग्रेज़ लोग तो बिना प्रेम के ही बेमौसम किसी को भी 'हग' करके 'लिप किस' ठोंक देते हैं, फिर इनके लिए सन्त वालन्ताइन सप्ताह की क्या ज़रूरत?

  2. #52
    कांस्य सदस्य superidiotonline's Avatar
    Join Date
    May 2017
    प्रविष्टियाँ
    5,422
    Rep Power
    8
    वर्ष २००७ की वो घटना तो याद होगी आपको जब रिचर्ड गेरे ने जबरदस्ती शिल्पा शेट्टी को किस ठोंक दिया था, जिस पर बड़ा बवाल मचा था।



    कुछ लोगों ने शिल्पा शेट्टी के ऊपर इस बात का मुकदमा भी ठोंक दिया था कि उन्होंने रिचर्ड गेरे का प्रतिरोध क्यों नहीं किया? हमारे विचार में तो उस समय स्टेज शो चल रहा था और प्रतिरोध करने का मतलब पूरा कार्यक्रम चौपट हो जाता। शिल्पा शेट्टी ने बड़ी दिलेरी के साथ हँसने का अभिनय करते हुए कार्यक्रम को चौपट होने से बचा लिया।

  3. #53
    कांस्य सदस्य superidiotonline's Avatar
    Join Date
    May 2017
    प्रविष्टियाँ
    5,422
    Rep Power
    8

  4. #54
    कांस्य सदस्य superidiotonline's Avatar
    Join Date
    May 2017
    प्रविष्टियाँ
    5,422
    Rep Power
    8
    सन्त वालन्ताइन सप्ताह के सातवें दिन अर्थात् १३ फरवरी को को 'किस डे' अर्थात् 'चुम्बन दिवस' के रूप में मनाया जाता है। इस दिन प्रेमी युगल एक-दूसरे को चुम्बन देकर अपने प्रेम को और अधिक प्रगाढ़ (Strong) करते हैं। हमें आज तक ये बात समझ में नहीं आई कि 'हग डे' और 'किस डे' अलग-अलग मनाने की क्या ज़रूरत है? क्या हग किए बिना किस करना सम्भव है? नहीं न?

    यहाँ पर ध्यान देने योग्य बात यह है कि यदि आपने सन्त वालन्ताइन सप्ताह के पिछले छः दिनों में अपनी गर्लफ्रेंड को अच्छी तरह से पका लिया होगा तभी 'किस डे' मनाना सम्भव है, क्योंकि पकी हुई गर्लफ्रेंड चौथाई बीबी के समान होती है। बिना पकी गर्लफ्रेंड के साथ 'किस डे' मनाने की जुर्रत कभी न करें। लेने के देने पड़ सकते हैं। वैसे गर्लफ्रेंड अगर पकी भी हो तो भी किस देने के लिए थोड़ा बहुत मशक्कत करनी ही पड़ती है। पहली बात तो ये है कि आपको किस देना आना चाहिए। जिन्हें किस देना न आता हो वे कृपया हिन्दी फ़ीचर फ़िल्म 'बैंग-बैंग' देखकर सीख लें। 'बैंग-बैंग' में किस देने की प्राचीन कला को काफी विस्तार से समझाया गया है। जो लोग 'बैंग-बैंग' फ़िल्म देखने में असमर्थ हैं उनके ज्ञानवर्धन के लिए फ़िल्म का तथाकथित 'शिक्षावर्धक' भाग नीचे प्रस्तुत किया जा रहा है।

  5. #55
    कांस्य सदस्य superidiotonline's Avatar
    Join Date
    May 2017
    प्रविष्टियाँ
    5,422
    Rep Power
    8

  6. #56
    कांस्य सदस्य superidiotonline's Avatar
    Join Date
    May 2017
    प्रविष्टियाँ
    5,422
    Rep Power
    8
    अब प्रस्तुत है सन्त वालन्ताइन दिवस पर एक चुटकुला-


  7. #57
    कांस्य सदस्य superidiotonline's Avatar
    Join Date
    May 2017
    प्रविष्टियाँ
    5,422
    Rep Power
    8

  8. #58
    कांस्य सदस्य superidiotonline's Avatar
    Join Date
    May 2017
    प्रविष्टियाँ
    5,422
    Rep Power
    8
    सन्त वालन्ताइन सप्ताह के आठवें दिन अर्थात् १४ फरवरी को को 'वैलेन्टाइन डे' अर्थात् 'वालन्ताइन दिवस' के रूप में बहुत ही धूमधाम से मनाया जाता है। इस दिन प्रेमी युगल क्या करते हैं- इस बारे में व्यापक शोध चल रहा है। परिणाम आते ही प्रकाशित कर दिया जाएगा।

  9. #59
    कांस्य सदस्य superidiotonline's Avatar
    Join Date
    May 2017
    प्रविष्टियाँ
    5,422
    Rep Power
    8
    अब प्रस्तुत है सन्त वालन्ताइन दिवस पर एक चुटकुला-


  10. #60
    कांस्य सदस्य superidiotonline's Avatar
    Join Date
    May 2017
    प्रविष्टियाँ
    5,422
    Rep Power
    8
    आइए, अब जानते हैं- क्या वजह थी जिसके कारण हमने 'सेंट वैलेन्टाइन डे' का भारतीयकरण करके 'सन्त वालन्ताइन दिवस' कर दिया था।

    दरअसल विश्व के युवा वर्ग के प्रिय सैन्ट वैलन्टाइन को ही हिन्दी में 'सन्त वालन्ताइन' के नाम से जाना-पहचाना जाता है। वर्ष 2015 में हमने 'सन्त वालन्ताइन दिवस' के नाम से अन्तर्जाल में एक लेख प्रकाशित करके सैन्ट वैलन्टाइन को एक नई भारतीय पहचान देते हुए यह प्रस्तावित किया था कि अब भारत में उन्हें 'सन्त वालन्ताइन' के नाम से जाना-पहचाना जाएगा। हमारे प्रस्ताव पर किसी प्रेमिका और प्रेमी ने अपना विरोध दर्ज नहीं कराया। अतः 'सन्त वालन्ताइन' का नाम निर्विरोध चुन लिया गया और सैन्ट वैलन्टाइन भारत में 'सन्त वालन्ताइन' बन गए।

    हुआ यह कि अंग्रेज़ों ने हमारे हिन्दी नामों के अंग्रेज़ी प्रारूप में बहुत वाट लगाया है. जैसे- 'कड़ा' को 'करा' कर दिया, 'हावड़ा' को 'हौराह' कर दिया। बदले में हमने अंग्रेज़ों के 'प्रिय' सेंट वैलेंटाइन को वाट लगाकर हिन्दी प्रारूप में सन्त वालन्ताइन कर दिया।

Page 6 of 6 प्रथमप्रथम ... 456

Posting Permissions

  • You may not post new threads
  • You may not post replies
  • You may not post attachments
  • You may not edit your posts
  •