यह सब पढ़कर पाठकगण हमें मायाजाल का महारथी समझने लगे होंगे, किन्तु यह बात एकदम गलत है। शहर में ढ़ाई लाख आशिक़ों वाली गर्लफ्रेंड को छकाने के लिए हमने भी एक बार मायानगरी का निर्माण करना शुरू किया था, किन्तु काम पूरा होने से पहले ही शहर में ढ़ाई लाख आशिक़ों वाली गर्लफ्रेंड वहाँ पर आ धमकी और सारा भाँडा फूट गया। शहर में ढ़ाई लाख आशिक़ों वाली गर्लफ्रेंड ने उल्टा मायाजाल रचते हुए हमारे द्वारा रचित मायानगरी की राजकुमारी को डरा-धमकाकर अपनी ओर मिला लिया। डराने-धमकाने के कारण राजकुमारी को बुखार भी आ गया जिसके कारण एक दिन का शाही कार्यक्रम स्थगित करना पड़ा। घटना की जानकारी होते ही हमें मायानगरी की राजकुमारी को एक महीने के लिए ग्रे लिस्ट में डालना पड़ा। फिलहाल मामले की जाँच-पड़ताल चल रही है। वैसे शहर में ढ़ाई लाख आशिक़ों वाली गर्लफ्रेंड को मायानगरी इतनी अच्छी लगी कि वह वहीं पर तम्बू-कनात लगाकर जम गई और अब सुना है कि उसके ढ़ाई लाख आशिक़ भी मायानगरी में आने वाले हैं! (समाप्त)