Page 19 of 20 FirstFirst ... 917181920 LastLast
Results 181 to 190 of 194

Thread: श्रावण मैं शिव पूजा

  1. #181
    कर्मठ सदस्य Shri Vijay's Avatar
    Join Date
    Apr 2011
    Location
    सारे जहां से अच्छा हिंदोस्ता हमारा
    Posts
    3,109

    Re: श्रावण मैं शिव पूजा

    जय भोलेनाथ , हर हर महादेव

    Dr.Shri Vijay Ji......
    सभी मित्रों से नम्र निवेदन हें की इस सूत्र पर अपनी अमूल्य प्रतिक्रिया अवश्य दे.....

  2. #182
    सदस्य
    Join Date
    Feb 2011
    Location
    हिमालय पे
    Age
    34
    Posts
    18,476

    Re: श्रावण मैं शिव पूजा

    शिव को बम बम भी कहा जाता है ,,कावड़ लेके जल चड़ाने को जाते भक्त जन पूरे रास्ते बम बम बोल बम बोलते रहते है ।
    बम एक मंत्र है ,,ये ब्रह्मा ,बिष्णु ओर महेश का संक्षिप्त रूप है ,,ब ब्रह्मा ओर बिष्णु से लिया गया है ओर म महेश से ,,बम बम बोलने से इन तीनों देव का आहवाहन होता है ।
    बोलो ---बम बम बम ।

  3. #183
    कर्मठ सदस्य JEETJAWAN's Avatar
    Join Date
    Aug 2011
    Age
    36
    Posts
    2,305

    Re: श्रावण मैं शिव पूजा

    अनेक भक्तों ने भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए कई स्तुतियों की रचना की है। रावण भी भगवान शिव का परम भक्त था। रावण ने भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए ही शिव तांडव स्त्रोत की रचना की थी। रावण नित्य इस स्त्रोत से भगवान शंकर की पूजा करता था। इस स्त्रोत का महत्व है कि जो भी इसका पाठ करता है वह कभी दरिद्र नहीं होता। उसकी हर मनोकामना पूरी होती है तथा दुनिया भर के सभी ऐश्वर्य, सुख आदि उसके पास होता है।



    शिव तांडव स्तोत्रम्

    जटाटवीगलज्जलप्रव हपावितस्थले , गलेऽवलम्ब्य लम्बितां भुजंगतुंगमालिकाम ।

    डमड्डमड्ड्मड्ड्म ्निनादवड्ड्मर्वय , चकार चण्डताण्डवं तनोतु न: शिव:शिवम् ॥ 1 ॥

    जटाकटाहसम्भ्रमभ् मन्निलिम्पनिर्झर -विलोलवीचिवल्लरीव राजमानमूध्र्दनि ।

    धगध्दगध्दगज्ज्वल ्ललाटपट्टपावके , किशोरचन्द्रशेखरे रति: प्रतिक्षणं मम ॥ 2 ॥

    धराधरेन्द्ननन्दि ीविलासबन्धुबन्धु -स्फुरद्दिगन्तसन् तिप्रमोदमानमानसे ।

    कृपाकटाक्षधोरणीन रुध्ददुर्धरापदि , क्वचिद्दिगम्बरे मनो विनोदमेतु वस्तुनि ॥ 3 ॥

    जटाभुजंगपिंगलस्फ रत्फणामणिप्रभा-कदम्बकुंकुमद्रवप रलिप्तदिग्वधूमुख ।

    दान्धसिन्धुरस्फु त्त्वगुत्तरीयमेद रे , मनोविनोदमद्भुतं बिभर्तु भूतभर्तरि ॥ 4 ॥

    सहस्त्रलोचनप्रभृ ्यशेषलेखशेखर-प्रसूनधुलिधोरणीव धुसराङध्रिपीठभू: ।

    भुजंगराजमा्लया निबध्दजाटजूटक: , श्रियै चिराय जायतां चकोरबन्धुशेखर: ॥ 5 ॥

    ललाटचत्वरज्वलध्द ञ्ज्यस्फुलिंगभा-निपीतपंचसायकं नमन्निलिम्पनायकम ।

    सुधामयुखलेखया विराजमान शेखरं , महाकपालि सम्पदे शिरो जटालमस्तु न: ॥ 6 ॥

    करालभाल्पट्टिकाध ध्दगध्दगज्ज्वलध् नञ्ज्याहुतीकृतप् रचण्डपंचसायके ।

    धराधरेन्द्ननन्दि ीकुचाग्रचित्रपत् कप्रकल्पनैकशिल्प िनि त्रिलोचने रतिर्मम ॥ 7 ॥

    नवीनमेघमण्डलीनिर ध्ददुर्धरस्फुरत् ुहुनिशीथिनीतम: प्रबन्धबध्दकन्धर: ।

    निलिम्पनिर्झरीधर ्तनोतु कृत्तिसिन्धुर: , कलानिधानबन्धुर: श्रियं जगदधुरन्धर: ॥ 8 ॥

    प्रफुल्लनीलपंकजप रपंचकालिमप्रभावल ्बिकण्ठकन्दलीरुच िप्रबध्दकन्धरम् ।

    स्मरच्छिदं पुरच्छिदं भवच्छिदं मखच्छिदं , गजच्छिदान्धकच्छि ं तमन्तकच्छिदं भजे ॥ 9 ॥

    अखर्वसर्वमंगलाकल कदम्बमञ्जरी , रसप्रवाहमाधुरीवि ृम्भणामधुव्रतम् ।

    स्मरान्तकं पुरान्तकं भवान्तकं मखान्तकं , गजान्तकान्धकान्त ं तमन्तकान्तकं भजे ॥ 10 ॥

    जयत्वदभ्रविभ्रमभ रमभ्दुजंगमश्व्र् , द्विनिर्गमत्क्रम ्फुरत्करालभालहव् वाट् ।

    धिमिध्दिमिध्दिमि ्ध्वनन्मृदंगतुन् मंगलध्वनिक्रमप्र वर्तितप्रचण्ड्ता ्डव: शिव: ॥ 11 ॥

    दृषद्विचित्रतल्प ोर्भुजंगमौक्तिकस रजोर्गरिष्ठरत्नल ोष्ठ्यो: सुहृद्विपक्षपक्ष ो: ।

    तृणारविन्दचक्षुष : प्रजामहीमहेन्द्र ो: , समप्रवृत्तिक: कदा सदाशिवं भजाम्यहम् ॥ 12 ॥

    कदा निलिम्पनिर्झरीनि ुंजकोटरे वसन् , विमुक्तदुर्मति: सदा शिर:स्थमञ्जलिं वहन् ।

    विलोललोचनो ललामभाललग्नक: , शिवेति मन्त्रामुच्चरन् कदा सुखी भवाम्यहम् ॥ 13 ॥

    इमं हि नित्यमेवमुक्तमुत तमोत्तमं स्तवं , पठन्स्मरन्ब्रुवन नरो विशुध्दिमेति सन्त्ततम् ।

    हरे गुरौ सुभक्तिमाशु याति नान्यथा गतिं , विमोहनं हि देहिनां सुशंकरस्य चिन्तनम् ॥ 14 ॥

    पूजावसानसमये दशवक्त्रगीतं , य: शम्भुपूजनपरं पठति प्रदोषे ।

    तस्य स्थिरां रथगजेन्द्रतुरंगय क्तां , लक्ष्मीं सदैव सुमुखीं प्रददाति शम्भु: ॥ 15 ॥

    ॥ इति श्रीरावणकृतं शिवताण्डवस्तोत्र सम्पूर्णम् ॥
    जय जवान
    जय किसान
    मेरा भारत महान

  4. #184
    कर्मठ सदस्य lalji1964's Avatar
    Join Date
    Jan 2011
    Location
    In the heart of Bulbull
    Posts
    2,175

    Re: श्रावण मैं शिव पूजा

    ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय
    :question:मुझे नही आस अब,बडा हो रहा घोटाला:question::udd:
    http://www.google.co.in/inputtools/cloud/try

  5. #185
    वरिष्ठ सदस्य hsukhiya's Avatar
    Join Date
    Sep 2009
    Location
    26 Ways of Death
    Posts
    988

    Re: श्रावण मैं शिव पूजा


  6. #186
    वरिष्ठ सदस्य loolugupta's Avatar
    Join Date
    Aug 2010
    Age
    42
    Posts
    900

    Re: श्रावण मैं शिव पूजा

    jai ho bhole bhandari
    byast raho mast raho:mango:खाओ पियो तंदुरुस्त रहो :100::128::mirch:मुझको यारों माफ़ करना मै नशे में हु

  7. #187
    नवागत
    Join Date
    Sep 2013
    Age
    58
    Posts
    37

    Re: श्रावण मैं शिव पूजा

    जय भोलेनाथ , हर हर महादेव

  8. #188
    कांस्य सदस्य sultania's Avatar
    Join Date
    Sep 2011
    Location
    MAKERS OF DIFFRENT TYPE THRED
    Posts
    5,439
    हर हर महादेव... जय भोले
    हकलाते हैं तो संस्कृत सीखें,जो व्यक्ति धाराप्रवाह बोल नहीं पाते, अटकते हैं या फिर हकलाते हैं उन्हें संस्कृत सीखना चाहिए।संस्कृत से हकलाना भी खत्म हो जाता है।

  9. #189
    कांस्य सदस्य sultania's Avatar
    Join Date
    Sep 2011
    Location
    MAKERS OF DIFFRENT TYPE THRED
    Posts
    5,439
    भगवान शिव की पायी गयी मूर्ति मैं सबसे पुरानी मूर्ति /

    इस मूर्ति का नाम कल्प विग्रह है /

    यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफ़ोर्निया रेडिएशन लेबोरेटरी , बर्कले ने इस मूर्ति को कार्बन डेटिंग द्वारा जांच करके इसे लगभग 28000 साल पुराना बताया है ।
    ॐ नमः शिवाय
    Attached Images/संलग्न चित्र Attached Images/संलग्न चित्र  
    हकलाते हैं तो संस्कृत सीखें,जो व्यक्ति धाराप्रवाह बोल नहीं पाते, अटकते हैं या फिर हकलाते हैं उन्हें संस्कृत सीखना चाहिए।संस्कृत से हकलाना भी खत्म हो जाता है।

  10. #190
    सदस्य anita's Avatar
    Join Date
    Jun 2009
    Posts
    34,044
    Quote Originally Posted by sultania View Post
    भगवान शिव की पायी गयी मूर्ति मैं सबसे पुरानी मूर्ति /

    इस मूर्ति का नाम कल्प विग्रह है /

    यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफ़ोर्निया रेडिएशन लेबोरेटरी , बर्कले ने इस मूर्ति को कार्बन डेटिंग द्वारा जांच करके इसे लगभग 28000 साल पुराना बताया है ।
    ॐ नमः शिवाय
    28000 साल!!!
    अद्भुत जानकारी
    धन्यवाद
    सभी उपस्थित मित्रो से निवेदन है फोरम पे कुछ न कुछ योगदान करे,अपनी रूचि के अनुसार किसी भी सूत्र में अपना योगदान दे सकते है,या फिर आप भी कोई नया सूत्र बना सकते है

Page 19 of 20 FirstFirst ... 917181920 LastLast

Posting Permissions

  • You may not post new threads
  • You may not post replies
  • You may not post attachments
  • You may not edit your posts
  •