loading...
Page 2 of 2 प्रथमप्रथम 12
Results 11 to 15 of 15

Thread: 'मेट्रोमैनिक्स' बने शाह

  1. #11
    कर्मठ सदस्य superidiotonline's Avatar
    Join Date
    May 2017
    प्रविष्टियाँ
    2,182
    Rep Power
    3

    Cool

    प्रदूषण से बेपरवाह दिल्ली

    लेकिन दिल्ली की अलग ही दुनिया है, जहां 5 माह में मेट्रो का किराया करीब दोगुना हो गया है. यानी पब्लिक ट्रांसपोर्ट के बेसिक सिद्धांत को ही खारिज कर दिया गया है. एक अनुमान के मुताबिक दिल्ली मेट्रो की वजह से सड़कों में गाड़ियां कम होने से 2002 से 2014 के बीच करीब 30 लाख टन कार्बन डायआक्साइड को पर्यावरण में आने से रोका गया.

  2. #12
    कर्मठ सदस्य superidiotonline's Avatar
    Join Date
    May 2017
    प्रविष्टियाँ
    2,182
    Rep Power
    3

    Cool

    जानकारों के मुताबिक प्रदूषण कम करना और सड़कों पर प्राइवेट गाड़ियां कम से कम रखना सरकार की जिम्मेदारी है. अमेरिका के 20 बड़े शहरों में केंद्र और राज्य सरकार मिलकर पब्लिक ट्रांसपोर्ट में 50 परसेंट सब्सिडी देती हैं. बीजिंग में भी मेट्रो सिस्टम के लिए सब्सिडी दी जाती है ताकि लोग कार लेकर ना निकलें. दिल्ली मेट्रो को करीब 700 करोड़ रुपए की भरपाई केंद्र और राज्य सरकार आसानी से कर सकती हैं. भारत में भी सरकारों को अमेरिका या चीन की तरह ऐसा तरीका निकालना पड़ेगा जिससे मेट्रो के किराए कम से कम रखे जाएं.
    ------------------------
    साभार : द क्विन्ट

  3. #13
    कर्मठ सदस्य superidiotonline's Avatar
    Join Date
    May 2017
    प्रविष्टियाँ
    2,182
    Rep Power
    3

    Cool

    तो आपने देखा कि मेट्रो से सफर करना कार से भी महँगा होने के कारण मेट्रो से चलने वाले यात्रियों के दिन फिरे और वे 'मेट्रोमैनिक्स' से शाह बन गए!

    अब हम आपको दिखाने जा रहे हैं एक ऐसी अद्भुत् चीज़ जिसे देखकर कारवालों का दिल जल जाएगा-



    ऊपर दिए चित्र में आप उस अद्भुत् चीज़ का दर्शन कर रहे हैं। इस अद्भुत् चीज़ को 'मेट्रो कार्ड' कहते हैं और यह बहुत ही धनवान यात्रियों के पास पाया जाता है, क्योंकि कम धनवान यात्री मेट्रो टोकन लेकर सफर करते हैं।

  4. #14
    कर्मठ सदस्य superidiotonline's Avatar
    Join Date
    May 2017
    प्रविष्टियाँ
    2,182
    Rep Power
    3

    Cool

    यहाँ पर हम अपने पाठकों को अत्यन्त गर्वपूर्वक यह बताते चलें कि उपरोक्त मेट्रो कार्ड का 'पूर्ण स्वामित्व' हमारे पास सुरक्षित है और हमारे पास इस तरह के कई कार्ड हैं। अब हमारे पाठकों को हमारी 'धनवानियत' के बारे में अच्छी तरह से पता चल गया होगा। फिलहाल उपरोक्त मेट्रो कार्ड इस्तेमाल न करने के कारण मुर्दा हो चुका है और बाकी बची रकम लगभग ₹ 80/- दिल्ली मेट्रो डकार चुकी है! वैसे कई साल पहले भी मेट्रो से सफ़र करने पर हमें ऐसा प्रतीत होता था कि दिल्ली मेट्रो बड़ी तेज़ी से मेट्रो कार्ड की रकम चाट रही है।

  5. #15
    वरिष्ठ सदस्य MahaThug's Avatar
    Join Date
    Aug 2016
    प्रविष्टियाँ
    869
    Rep Power
    2
    मितरों.....



    दिल्ही में प्रदूषण के बढ़ते नरेन्द्र मोदीजी सभी कार ट्रक और बाईक बंध करवानेवाले है। डीज़ल, पेट्रोल, नेप्था और केरोसीन से चलते कोई भी वाहन आप नहीं चला सकेंगे। औधौगिक धुंए को घन स्वरुप दे कर उन्हें निकाल करने की भी व्यवस्था की जाएगी।
    सडक पर सिर्फ साईकिल, ईलेक्ट्रीक कार और सेगवे ही दिखाई देंगे। ईस महानगर में हरएक व्यक्ति को ५०-५० पेड़ लगाने होंगे, ईसके चलते पांच वर्षो में दिल्ही के रभी रास्ते कुछ एसें दिखेंगे।


    महाठग आप ठगाईए, ओर न ठगिए कोय । आप ठगें सुख ऊपजे, ओर ठगें दुःख होय ॥

Page 2 of 2 प्रथमप्रथम 12

Thread Information

Users Browsing this Thread

There are currently 1 users browsing this thread. (0 members and 1 guests)

Bookmarks

Posting Permissions

  • You may not post new threads
  • You may not post replies
  • You may not post attachments
  • You may not edit your posts
  •